संघर्ष का मार्ग ही स्वाभिमान की ओर जाता है: लक्ष्य

0
479
.

हरियाणा/रेवाड़ी. लक्ष्य की रेवाड़ी टीम ने बहुजन जागरूकता अभियान के तहत एक कैडर कैम्प का आयोजन रेवाड़ी के गांव नंदरामपुर में किया जिसमें गांव वासियों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।

संघर्ष का मार्ग ही स्वाभिमान की ओर जाता है अर्थात् जो लोग स्वाभिमान को समझ गए हैं, वे लोग संघर्ष से पीछे नहीं हटते है। ऐसे लोग टिकाऊ होते है और वे जो कहते है उस पर अटल रहते है उनके अंदर व्यक्तिगत स्वार्थ की बजाये समाज उत्थान की भावना होती है, वे मानवता में विश्वास रखते है और समानता, बंधुत्व के लिए जीते है। स्वाभिमानी लोग संघर्ष से ही निकलते है। इसका बड़ा उद्धरण है बहुजन समाज में जन्मे महापुरुष। यह बात लक्ष्य कमांडर कविता जाटव ने मुख्य अतिथि के रूप में कही।

बहुजन समाज के लोगों से आवाह्न करते हुए कहा कि आओ अपने स्वाभिमान के लिए संघर्ष करें। ताकि बहुजन समाज भी देश में उचित स्थान प्राप्त कर सके। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इस आंदोलन में महिलायें अहम भूमिका निभा सकती है और जिसका बहुत बड़ा उदाहरण लक्ष्य की महिला कमांडर है। जो दिनरात समाज में जागरूकता के लिए कार्य कर रहीं है और शोषण के खिलाफ भी आवाज बुलंद कर रही है, जिससे समाज के लोगों को न्याय भी मिल रहा है।

इस कैडर कैंप में लक्ष्य कमांडर कविता जाटव, सुशील कांत, दयावती, लक्ष्य युथ कमांडर नेत्रपाल, दौलतराम बौद्ध, डॉ गुलशन प्रकाश, तेज सिंह ने हिस्सा लिया और इस कार्यक्रम के आयोजन में डॉ रवि कुमार, मास्टर भगवान सिंह, हीरा पंच व कांशीराम ने अहम भूमिका निभाई।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here