वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद भी कोराना संक्रमित हुई लता मंगेसकर, आईसीयू मे भर्ती

0
60
lata mangeskar
.
फर्स्ट आई न्यूज डेस्क:
मुंबई: स्वर कोकिला लता मंगेशकर को कोरोना की चपेट में आने के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल के ICU में रविवार 9 जनवरी सुबह भर्ती करवाया गया था। फैंस के बीच उनकी हेल्थ को लेकर लगातार चिंता बनी हुई है। अस्पताल से मिली जानकारी की मुताबिक, 92 वर्षीय लता मंगेशकर को उम्र के कारण कई अन्य समस्याएं भी हैं। इसके चलते डॉक्टर उनका खास ख्याल रख रहे हैं। वहीं, उन्हें कोविड के साथ निमोनिया भी है। अगले 8-10 दिन डॉक्टर्स उन्हें ऑब्जर्वेशन में रखेंगे।

पत्रकारों की टीम ने पेडर रोड स्थित लता ताई के निवास प्रभाकुंज की हालत जानी। प्रभाकुंज में अकेली लता ताई कोरोना पॉजिटिव नहीं हैं, बिल्डिंग में करीब 4-5 लोग और संक्रमित हैं। बिल्डिंग में फिलहाल बाहरी लोगों और ड्राइवर्स की एंट्री भी बंद है। करीब 2 साल से घर की बालकनी में भी लता ताई कम ही दिखाई दी हैं। कोई 4 साल से उनका रियाज भी रेगुलर नहीं है।

वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद भी ताई को हुआ संक्रमण
लता मंगेशकर की भतीजी रचना ने बताया कि लता ताई की हालत स्थिर है। आप सब लोग दुआ करिए ताई जल्दी ठीक होकर घर वापस आ जाएं। उन्होंने बताया कि ताई को वैक्सीन के दोनों डोज लगे थे, उसके बाद भी वो संक्रमित हो गई हैं। फिलहाल वे डॉक्टर्स की निगरानी में हैं।

प्रभाकुंज के फर्स्ट फ्लोर में रहती हैं लता मंगेशकर
बिल्डिंग के फर्स्ट फ्लोर पर उनका फ्लैट है। साथ ही उसी बिल्डिंग में उनकी बहन उषा मंगेशकर, भाई हृदयनाथ मंगेशकर और उनका पूरा परिवार रहता है। आशा भोसले अशोका टावर लोअर परेल में रहती हैं। जब हमने लता मंगेशकर के बारे में उनकी बिल्डिंग के लोगों और पड़ोसियों से बात करना चाही, तो उन्होंने कैमरे के सामने आने से मना कर दिया। उन्होंने हमें ऑफ द रिकॉर्ड बताया कि हम लगभग 15 सालों से यहीं रह रहे हैं। पहले लता ताई नजर आ जाती थीं, कई बार बालकनी में बैठी होती थीं या लिफ्ट से उतरते वक्त दिखती थीं, लेकिन 2019 में बीमार होने के बाद वे हमें 1 या 2 बार ही नजर आईं।

प्रभाकुंज बिल्डिंग में अभी भी कई फ्लैट में कोविड मरीज, घर में हैं क्वारैंटाइन
बिल्डिंग के रहवासियों के ड्राइवर्स को बिल्डिंग के अंदर आने की इजाजत नहीं है। यह नियम कोविड आने के बाद से लागू किया गया है। आसपास के लोगों ने बताया कि प्रभाकुंज बिल्डिंग के अभी 4 से 5 घरों में कोविड के मरीज हैं, जो होम क्वारैंटाइन हैं। उनके घर के गेट पर भी नोट लगा हुआ है। इससे पहले भी 2 से 3 परिवार पॉजिटिव आए थे, वो अब रिकवर हो गए हैं। कोविड की पहली लहर में इस बिल्डिंग में ज्यादा मरीज आने के बाद इसे सील भी किया जा चुका है।

पहले ताई के रियाज की आवाज भी सुनाई देती थी
लता ताई के साथ बिल्डिंग में रहने वाले व्यक्ति ने बताया, 3-4 साल पहले ताई जब सुबह-सुबह रियाज करती थीं तो हमारे घरों तक आवाज आती थी। हम अपने आपको धन्य मानते हैं कि हमें उनके इतना पास रहने का सौभाग्य मिला।

दुआ कर रहे हैं ताई जल्द से जल्द ठीक हो जाएं
पड़ोसियों ने बताया जिस दिन से ताई की तबियत के बारे में पता चला है, हम सब दुआ कर रहे हैं कि वो जल्द ठीक होकर वापस आ जाएं। हमने काफी समय से उन्हें देखा भी नहीं। हमारे लिए गर्व की बात है कि हम स्वर कोकिला के कई बार साक्षात दर्शन कर चुके हैं।

.