देश और प्रदेश में हेल्थ टूरिज्म की काफी सम्भावनाएं मौजूद- योगी

0
222
.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार जनस्वास्थ्य के प्रति अत्यन्त सजग है। जनता को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए सभी प्रयास किये जा रहे हैं। वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल के दौरान प्रदेश में 02 एम्स और 30 नये मेडिकल कॉलेज स्थापित किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। प्रदेश का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत किया जा रहा है। आज प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाएं पहले से बहुत बेहतर हुई हैं। मैनपावर टेªनिंग पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। लोगों की सुविधा के लिए प्रदेश में वर्चुअल परामर्श सेवाओं की शुरुआत की जा चुकी है। प्रदेशवासियों को आज टेलीमेडिसिन और टेलीकंसलटेशन की सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही है।

मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां अपोलोमेडिक्स हॉस्पिटल में ऑर्गन ट्रांसप्लाण्ट कार्यक्रम का अनावरण करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार प्रदेशवासियों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए निरन्तर प्रयासरत हैं। गरीबों को इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के दृष्टिगत आयुष्मान भारत योजना लागू की गयी है। ग्रामीण और दूरस्थ क्षेत्रों के निवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के दृष्टिगत राज्य में मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेलों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना हम सबकी जिम्मेदारी है।

मुख्यमंत्री ने कोरोना काल का उल्लेख करते हुए कहा कि जिस समय इस महामारी की शुरुआत हुई तब से राज्य सरकार ने इस चुनौती का सामना करने के लिए निरन्तर कार्य किया और सभी आवश्यक निर्णय त्वरित गति से लिए। प्रदेशवासियों को कोरोना का इलाज मुहैया कराने के दृष्टिगत एल-1, एल-2, एल-3 श्रेणी के डेढ़ लाख बेड स्थापित किये गये। प्रदेश के सभी 75 जनपदों में आई0सी0यू0 बेड्स और वेण्टीलेटर्स उपलब्ध कराये गये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश और प्रदेश में हेल्थ टूरिज्म की काफी सम्भावनाएं मौजूद हैं। अपोलो हॉस्पिटल की एक बड़ी श्रृंखला पूरे देश में स्थापित है, जिससे मरीजों को उपचार की उत्कृष्ट सेवाएं उपलब्ध होती हैं। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अंग प्रत्यारोपण की जो इकाई अपोलो हॉस्पिटल द्वारा स्थापित की गयी है, उससे लखनऊ सहित प्रदेश के लोगांे को अब यह सुविधा प्रदेश में ही उपलब्ध हो गयी है। उन्होंने इसके लिए अपोलो हॉस्पिटल प्रबन्धन को बधाई दी।

हॉस्पिटल प्रबन्धन द्वारा इस अवसर पर मुख्यमंत्री की भेंट अपोलोमेडिक्स हॉस्पिटल में लिवर ट्रांसप्लाण्ट के पहले मरीज से करायी गयी। मुख्यमंत्री जी ने मरीज से उसकी कुशलक्षेम पूछी। उन्होंने इस उपलब्धि पर हॉस्पिटल को बधाई देते हुए कहा कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य की दिशा में यह एक सराहनीय कदम है। इससे अब राज्य के लोगों को लिवर ट्रांसप्लाण्ट जैसी जटिल सर्जरी का लाभ अपने प्रदेश में ही मिल सकेगा। प्रदेश सरकार उत्तर प्रदेश में सरकारी और निजी स्वास्थ्य संस्थानों की सहायता से प्रदेशवासियों को बेहतर व उन्नत चिकित्सा सेवा देने की दिशा निरन्तर अग्रसर है। भविष्य में यह ट्रांसप्लाण्ट प्रोग्राम पूरे भारत में सर्वाेपरि होगा।

कार्यक्रम को अपोलोमेडिक्स हॉस्पिटल के एम0डी0 व सी0ई0ओ0 डॉ0 मयंक सोमानी तथा डॉ0 अजय कुमार ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर महिला कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वाती सिंह सहित बड़ी संख्या में चिकित्सक एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here