लखनऊ- छेड़छाड़ का मुकदमा वापस न लेने पर महिला का सिर फोड़ने वाले चार आरोपित गिरफ्तार…

0
144
.

क्राइम डेस्क। छेड़छाड़ का मुकदमा वापस न लेने पर महिला का सिर फोड़ने वाले चार आरोपित को लखनऊ की ठाकुरगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है, घटना के बाद से ही चारों आरोपित फरार थे। बता दें, पीड़िता ने नवंबर माह में हमलावरों के खिलाफ छेड़छाड़ समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। ये मामला ठाकुरगंज थानाक्षेत्र स्‍थि‍त कैंपवेल रोड का है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने बुधवार रात आरोपित जरीना, रईस उसके बेटे इरफान हमलावर दिलशाद को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार चारों आरोपित से पुलिस पूछताछ कर रही है, जिसके बाद सभी आरोपित को जेल भेज दिया जाएगा।

कैंपवेल रोड के निवासी ई-रिक्शा चालक की पत्नी मंगलवार को घर के बाहर बैठी थी। इस बीच पड़ोस में रहने वाले दिलशाद और रईस पहुंचे। दोनों ने उस पर छेड़छाड़ का मुकदमा वापस लेने और मामले में पैरवी न करने का दबाव बनाया। महिला ने विरोध किया तो दिलशाद और रईस ने उस पर हमला बोल दिया। दोनों ने लोहे की चेन और बेल्ट से महिला को बीच सड़क गिराकर पीटा। इस बीच हमलावरों के घर की महिला भी आ गई, उन्‍होंने भी पीड़ि‍ता के बाल पकड़कर जमकर पीटा। हमले से पीड़ि‍ता का सिर फट गया था। घटना के बाद हमलावर घर में ताला जड़कर भाग निकलें थे।

दरअसल, महिला ने बीते नवंबर में हमलावरों के खिलाफ छेड़छाड़ समेत अन्य धाराओं में कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कराया था। पीड़ि‍ता का आरोप है कि आए दिन शोहदे उसके साथ छेड़छाड़ करते थे। विरोध पर धमकाते थे। उसने कई बार थाने में शिकायत की थी पर पुलिस ने सुनवाई नहीं की।

घटना के बाद से दहशत में परिवार

घटना के बाद से महिला उसकी बेटी और परिवारीजन दहशत में हैं। किशोरी के मां के मुताबिक आरोपित और उनके मिलने वाले मामले में अभी भी समझौते का दबाव बना रहे हैं। न करने पर धमकी दे रहे हैं।

परिवारीजन महिला को अस्पताल लेकर पहुंचे। इंस्पेक्टर ठाकुरगंज सुनील दुबे ने बताया कि महिला ने आरोपितों के खिलाफ बीते नवंबर में छेड़छाड़ का मुकदमा कोर्ट के आदेश पर दर्ज कराया था। हमलावरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर उनकी तलाश में दबिश दी जा रही है। दोनों पक्षों में अक्सर झगड़ा होता रहता था।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here