वर्ल्ड डेस्क. पैसों की तंगी और भुखमरी झेल रहे पाकिस्तान से एक और बड़ी खबर सामने आई है। जहां भारत पोलियो मुक्त देश घोषित हो चुका है तो वहीं पाकिस्तान में इसके मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। जो पाकिस्तान सरकार के बेहद हैरान करने वाली खबर है।

साल 2019 की बात करें तो पाकिस्तान में 119 मामले पोलियों के आए हैं। जिसमें खैबर पख्तूनख्वा में 83 मामले, सिंध से 21, बलूचिस्तान में 9 और पंजाब में 6 मामले दर्ज किए गए हैं। गौरतलब है कि इससे पहले 2018 में 12 जबकि 2017 के आठ मामले सामने आए थे।

पोलियो संस्थान से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि 2019 में पूरे साल पोलियो वायरस फैलने के कई कारण हैं। असल में पाकिस्‍तान में मौजूद आतंकवाद के कट्टरपंथी आकाओं का मानना है कि पोलियो की खुराक बांझपन की वजह बनती है। यही नहीं पाकिस्‍तान में पालियो टीमें भी बीते एक दशक से आतंकियों के निशाने पर हैं। दिसंबर 2012 से पोलियो टीमों पर हुए हमलों में 68 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कई जख्‍मी हुए हैं। यही वजह है कि पाकिस्‍तान आज भी पोलिया जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रहा है।