कोरोना वायरस को लेकर देश में दहशत के माहौल के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों को राहत की खबर दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के 18 लाख परिवारों, बुजुर्गों, विधवाओं और विकलांगों के लिए राहत पैकेज की घोषणा की।  उन्होंने दिल्ली में मिलने वाले राशन के कोटे को बढ़ा दिया है और इसे कोरोना के असर को देखते हुए मुफ्त देने का फैसला किया है। 

शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के करीब 70 लाख लोगों के लिए राशन का कोटा बढ़ा दिया और ऐलान किया कि 7.5 किलो राशन मुफ्त मिलेगा। इसके अलावा उन्होंने दिल्ली के बुजुर्ग, विधवा और विकलागों को मिलने वाली पेंशन की राशि को दोगुना करने का ऐलान किया। कोरोना वायरस ने ज्यादा तर जिस तरह से बुजुर्गों को टारगेट किया है, उसे ध्यान में रखते हुए भी अरविंद केजरीवाल ने उनसे कुछ दिनों के लिए पार्कों में नहीं निकलने की अपील की है। 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज स्पष्ट कर दिया कि दिल्ली में फिलहाल बंद जैसी स्थिति नहीं, लेकिन जरूरत पड़ने पर इसे करना होगा। साथ ही उन्होंने रविवार को जनता कर्फ्यू को लेकर लोगों से एक साथ पांच से अधिक इकट्ठा न होने की अपील की। उन्होंने कहा कि अगर बहुत जरूरी न हो तो घरों से बाहर न निकलेें। जनता कर्फ्यू  के दौरान दिल्ली की सड़कों पर 50 प्रतिशत बसें नहीं चलेंगी। 

आम आदमी पार्टी के मुखिया केजरीवाल ने कहा कि कोरोना की वजह से हम दिल्ली में राशन और खाने-पीने की चीजों की कमी नहीं होने देंगे। हम राशन का कोटा बढ़ा रहे हैं और 18 लाख परिवार इस राशन से कवर हो जाएंगे। बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली में भी एक मौत हो चुकी है।