27 नवम्बर को प्रत्येक बूथ पर मतदाता बनाने के लिए विशेष कैम्प का आयोजन

0
58
.

लखनऊः भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार प्रदेश के आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के लिए नये मतदाताओं को जोड़ने और मतदाता सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के लिए 01 नवम्बर से 30 नवम्बर, 2021 तक पूरे प्रदेश में अभियान चलाया जा रहा है और इस दौरान विशेष कैम्पों का आयोजन भी किया जा रहा है। कल दिनांक 27 नवम्बर को प्रत्येक बूथ पर मतदाता बनाने के लिए विशेष कैम्प का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश में चल रहे विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2022 की प्रगति के सम्बंध में तथा मतदाता पंजीकरण आवेदनों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के लिए मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने जिला निर्वाचन अधिकारियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश दिए।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्देशित किया है कि प्रत्येक बूथ पर मतदाता फार्मों का त्रुटिरहित पंजीकरण कराने पर जोर दिया जाय, जिससे कि एक साफ-सुथरी, स्पष्ट, शुद्ध व समावेशी मतदाता सूची बनायी जा सके। इसके लिए मतदाता फार्मों का परीक्षण एवं निस्तारण गुणवत्तापूर्ण ढंग से किया जाय। जो भी आवेदन निरस्त किये जाएं, उसके निरस्त होने का कारण अवश्य बताया जाय। उन्होंने कहा है कि प्रत्येक ईआरओ/एईआरओ, बीएलओ व सुरपरवाइजर पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य करें। उन्होंने निर्देश दिये हैं कि 18-19 आयु वर्ग के नये मतदाताओं को मतदाता सूची में जोड़ने के लिए किसी भी प्रकार की लापरवाही एवं शिथिलता न बरती जाय। इस कार्य में डोर-टू-डोर सर्वे करने के भी निर्देश दिये जाएं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आयोग ने निर्देशित किया है कि किसी भी जनपद में पांच से अधिक विधान सभा होने पर दो ई0आर0 (इलेक्ट्रल रोल्स) नोडल ऑफिसर नियुक्त किये जाएं। इसमें एडीएम या इसके समकक्ष स्तर के अधिकारी को ही ई0आर0 नोडल ऑफिसर बनाया जाय। जिन जनपदों में पांच या उससे कम विधान सभा हों तो वहां पर एक नोडल ऑफिसर नियुक्त किया जायेगा। इसी प्रकार प्रयागराज जनपद में बारह विधान सभा होने पर वहां पर तीन नोडल ऑफिसर नियुक्त किये जाएंगे।

.