राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 26 अगस्त से UP दौरे पर, रामलला के करेंगे दर्शन

0
176
President Ramnath Kovind reached Kanpur, Governor and Chief Minister welcomed Kanpur news
.

लखनऊ. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) एक बार फिर यूपी के दौरे पर आने जा रहे हैं. 2 महीने के भीतर ये उनकी लखनऊ (Lucknow) की दूसरी यात्रा है. 25 जून 2021 को राष्ट्रपति दिल्ली के सफदरजंग से कानपुर, प्रेसिडेंशियल ट्रेन से आए थे. वह इसी प्रेसिडेंशियल ट्रेन से अपने पैतृक गांव झिंझक भी गए थे. इसके बाद प्रेसिडेंशियल ट्रेन से ही वो लखनऊ भी पहुंचे थे. महामहिम राष्ट्रपति अब 26 अगस्त से उत्तर प्रदेश के चार दिवसीय दौरे पर रहेंगे. जिसमें वह लखनऊ, गोरखपुर और अयोध्या में होने वाले तमाम कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 26 अगस्त को विशेष विमान के जरिए दिल्ली से लखनऊ के चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे पर उतरेंगे. जहां से वह बाबा भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे. 27 अगस्त को लखनऊ में सैनिक स्कूल की हीरक जयंती वर्ष पर पोस्टल स्टाम्प का विमोचन करेंगे. साथ ही स्कूल के 1 हजार क्षमता वाले ऑडिटोरियम का लोकार्पण करेंगे. 28 अगस्त को राष्ट्रपति गोरखपुर जाएंगे. जहां आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास और गोरक्षनाथ विवि में अस्पताल भवन का उद्घाटन करेंगे.

गोरखपुर से कार्यक्रम समाप्त होने के बाद महामहिम राष्ट्रपति अगले दिन यानी 29 अगस्त की सुबह लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन से सुबह 9:10 पर प्रेसीडेंशियल ट्रेन के जरिए अयोध्या रवाना होंगे. ट्रेन से वह सुबह 11:30 बजे अयोध्या पहुंचेंगे. वहां भगवान श्रीराम के दर्शन करने के साथ ही वह कई उद्घाटन और शिलान्यास के कार्यक्रमों में भी शामिल होंगे. कार्यक्रम समाप्त करने के बाद वह दोपहर 3:50 पर वापस लखनऊ के लिए रवाना होंगे. प्रेसीडेंशियल ट्रेन अयोध्या स्टेशन से 3:50 पर रवाना होकर शाम 6:20 पर लखनऊ पहुंचेगी.

आपको बता दें कि अयोध्या में राष्ट्रपति के प्रोटोकॉल के स्तर का कोई गेस्ट हाउस या होटल नहीं है इसीलिए राष्ट्रपति राजभवन लखनऊ में ही रुकेंगे. लखनऊ से अयोध्या 135 किलोमीटर की दूरी प्रेसिडेंशियल ट्रेन 2:20 घंटे में तय करेगी. राष्ट्रपति भवन की ओर से रेलवे बोर्ड चेयरमैन सुनीत शर्मा को प्रेसिडेंशियल ट्रेन को लेकर दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं. उन्होंने राष्ट्रपति के आगमन को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक बुला कर सारे दिशा-निर्देश दे दिये हैं. इस बैठक में स्टेशनों पर बेहतर सुविधाओं और राष्ट्रपति के दौरे के मद्देनजर विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये गये हैं.

.