निजी सचिव विशम्भर ने पांच दिन बाद तोड़ा दम, आत्महत्या के प्रयास में खुद को मारी थी गोली

0
69
.

 

लखनऊ, मामला यूपी का है जहां सचिवालय प्रांगण के बापू भवन में अपर मुख्य सचिव के निजी सचिव विशम्भर दयाल ने पांच दिन पहले आत्महत्या करने की को​​शिश की थी। आत्महत्या के प्रयास में खुद को गोली मारने के बाद उन्हें विशम्भर दयाल के लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लोहिया संस्थान के सीएमएस डॉ राजन भटनागर ने बताया की आइएएस के निजी सचिव वेंटिलेटर पर भर्ती थे। उनकी हालत लगातार नाजुक बनी हुई थी। पांच दिन बाद शुक्रवार सुबह इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि अपर मुख्य सचिव डॉ. रजनीश दुबे के निजी सचिव विशम्भर दयाल को 30 अगस्त को डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था। उसी दिन ऑपरेशन कर उनके सिर से गोली तो निकाल ली गई थी, लेकिन उनकी हालत लगातार गंभीर बनी थी। अपर मुख्य सचिव नगर विकास नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन विभाग में कार्यरत निजी सचिव विशम्भर दयाल ने डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में शुक्रवार को दम तोड़ दिया। दयाल ने बापू भवन की आठवीं मंजिल पर अपने कार्यालय के कक्ष में जन्माष्टमी का अवकाश होने के बाद प्रवेश किया और दस मिनट में कपनटी पर लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मार ली।

.