पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज ने देश व धर्म के विकास एवं लोगों के कल्याण के लिए विभिन्न कार्य किये: मुख्यमंत्री

0
94
.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज महंत अवेद्यनाथ महाविद्यालय, जनपद महराजगंज में ब्रह्मलीन गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवेद्यनाथ जी महाराज की 7वीं पुण्यतिथि के अवसर पर उनकी प्रतिमा के अनावरण कार्यक्रम में कहा कि पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज ने देश व धर्म के विकास एवं लोगों के कल्याण के लिए विभिन्न कार्य किये। पूज्य महंत जी ने विशेषतः इस क्षेत्र के शैक्षणिक विकास हेतु चार से पांच दशक तक अनवरत रूप से कार्य किया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जब इस क्षेत्र में शिक्षा का कोई केन्द्र नहीं था, तब 1950 के दशक में महंत अवेद्यनाथ जी महाराज ने अपने पूज्य गुरु महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज के नाम पर दिग्विजयनाथ इण्टर कॉलेज की स्थापना की थी। इस शिक्षण संस्था के विद्यार्थियों ने जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में रोशनी बिखेरने का कार्य किया है। पूज्य महंत जी ने बालिकाओं की शिक्षा के लिए 1990 के दशक के पूर्वार्द्ध में एक स्कूल खोला था। बालिकाओं की उच्च शिक्षा हेतु डिग्री कॉलेज की स्थापना के लिए महंत जी ने हमें प्रेरित किया था। आज गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवेद्यनाथ महाविद्यालय यहां के युवाओं की उच्च शिक्षा के लिए तत्पर है। सिद्धार्थ विश्वविद्यालय से सम्बद्ध यह महाविद्यालय कला, विज्ञान व वाणिज्य की शिक्षा यहां के बच्चों को उनके घर (जनपद) में ही उपलब्ध करा रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज जी सदैव शिक्षण कार्यों के विकास के लिए तत्पर रहे, क्यांेकि वह यह मानते थे कि आज के बच्चे कल हमारे देश के भविष्य होंगे। पूज्य महंत जी ने इस क्षेत्र के लोगों को निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं पशुआंे के इलाज हेतु पशु चिकित्सालय खुलवाए। उन्हांेने कहा कि पूज्य महंत जी ने मन्दिरों को लोक कल्याण के केन्द्र के रूप में स्वीकार किया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में आज देश की आन्तरिक एवं बाह्य सुरक्षा पहले से मजबूत हुई है। आज देश से नक्सलवाद, माओवाद, पूर्वाेत्तर के उग्रवाद से निजात मिली है तथा कश्मीर में अलगाववाद का समाधान किया गया है। उन्होंने कहा कि आज दुनिया भारत के जज्बे को स्वीकार कर रही है और देश प्रधानमंत्री जी के साथ कदम से कदम मिलाकर चल रहा है। भारत दुनिया की महाशक्ति के रूप में निरन्तर आगे बढ़ रहा है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश सभी क्षेत्रों में सुदृढ़ हो रहा है। यशस्वी नेतृत्व से वैश्विक स्तर पर देश की प्रतिष्ठा मंे वृद्धि हुई है। आज सीमा पार से घुसपैठ में कमी आयी है। सीमावर्ती क्षेत्रों में दूर-दूर तक कोई नजर नहीं आता तथा दुस्साहस करने वालों को हटने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि यह नये एवं मजबूत भारत की तस्वीर है। देश का प्रत्येक नागरिक ऐसे यशस्वी नेतृत्व को अभिनन्दन कर रहा है।
इससे पूर्व, केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी व मुख्यमंत्री जी ने पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज की प्रतिमा का अनावरण किया तथा उन्हें अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की।
इस अवसर पर रक्षा मंत्री जी ने कहा कि पूज्य महंत अवेद्यनाथ जी महाराज का व्यक्तित्व अद्भुत था। वह शांतिपूर्ण सहअस्तित्व के समर्थक व सहज व्यक्तित्व के धनी थे। पूज्य महाराज जी ने सनातन धर्म की रक्षा व संवर्धन के लिए अतुलनीय कार्य किये। उन्होंने कहा कि नाथ सम्प्रदाय व गोरक्षपीठ के प्रति लोगों में अपार आस्था है। नाथ सम्प्रदाय व गोरक्षपीठ ने जाति, धर्म, पंथ का भेद किये बिना देश व धर्म के विकास तथा सामाजिक समरसता को बढ़ाने मंे अपना अमूल योगदान दिया है। राम जन्मभूमि के इतिहास में महंत दिग्विजयनाथ जी महाराज व महंत अवेद्यनाथ जी महाराज का महती योगदान है।

.