मुसलमानों को चाहिए कि राम मंदिर के निर्माण में सहयोग करें- वसीम रिजवी

0
487
.

अयोध्या. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Construction of Ram Temple) के लिए पूरे देश के हर प्रांत से प्रत्येक वर्ग समर्पण निधि में अपना सहयोग दे रहा है. राम मंदिर समर्पण निधि अभियान के अंतर्गत लगातार राम मंदिर निर्माण (Construction of Ram Temple) के लिए सहयोग आ रहा है. इसी बीच राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार ने कहा कि हमारा हिंदुस्तान खूबसूरत है। हर धर्म के लोग दरगाह पर जाते हैं। हम सब हिंदुस्तानी थे, हैं और रहेंगे। 2016 से लखनऊ से शियाओं ने मंदिर अयोध्या में बनाने का संकल्प लिया था। आज सपना पूरा हो रहा है।

राम मंदिर समर्पण निधि अभियान के तहत हर धर्म और समुदाय के लोग इसमें अपनी अपनी भागीदारी निभा रहें है। लखनऊ के सहादतगंज स्थित शिया यतीमखाना के अनाथ छोटे बच्चों व मुस्लिम समाज के लोगों ने समर्पण निधि में हिस्सा लिया है। यहां आये सैकड़ों बच्चों ने राम मंदिर निर्माण के 10, 20, 50 यर 100 रुपए का योगदान किया है। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार ने कहा कि, हम सब हिंदुस्तानी थे, हैं और रहेंगे। दुनिया की कोई ताकत इसको नहीं बदल सकती।

शिया सेंट्रल वफ्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष सैय्यद वसीम रिजवी ने कहा कि कुछ विदेशी ताकतों ने हमारे बीच के लोगों को उकसाने का काम किया। लेकिन अपनी सूझ बूझ के साथ समझदारी से काम लिया। किसी भी विवादित जगह पर मस्जिद नहीं बन सकती। लेकिन हिंदुओं को अपमानित करने के लिए विदेशी ताकतों ने ये खेल खेला।

शिया वफ्फ बोर्ड ने विवाद खत्म करने की कोशिश की। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर निर्माण शुरू हुआ है। ऐसी ताकतों को मुंह तोड़ जवाब मिला है। मुसलमानों को चाहिए कि राम मंदिर के निर्माण में सहयोग करें। अपनी भेदभाव को खत्म करने के लिए यह जरूरी है। बच्चों को भी सीख दें कि मिलजुल कर रहें, जिससे देश मजबूत होगा। कार्यक्रम में आरआरएस उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ प्रचारक स्वामी मुरारी दास भी मौजूद रहे।

मुख्य अतिथि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक डॉ इन्द्रेश कुमार, आर एस एस के यू पी प्रचारक स्वामी मुरारी दास व ऑल इंडिया सिया यतीमखाना के अध्यक्ष वसीम रिजवी मौजूद रहें।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here