अब तक डकैतो को पकड़ने में नाकाम पुलिस, अधिकारियों ने लगाई फटकार

0
57
.

लखनऊ, माल इलाके के फूलतारा गांव में बीते डेढ़ हफ्ते पूर्व किसान विजय के घर में डकैती का मामला सामने आया था। इस मामले में पुलिस अबतक बदमाशों का पता नहीं लगा सकी है। पुलिस की पड़ताल सिर्फ संदिग्धों से पूछताछ तक टिकी है। पुलिस बदमाशों का अभी तक सुराग नहीं लगा सकी है। वहीं, घटना के बाद से विजय और उनका पूरा परिवार दहशत में है। पीड़ित परिवार ने सुरक्षा की मांग की है। विजय ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

पुलिस ने डकैती में दर्ज किया था मुकदमाः

घटना के बाद दूसरे दिन थानाप्रभारी माल रवींद्र कुमार ने चोरी के दौरान हमले और मारपीट का मामला दर्ज किया था। जबकि विजय के घर असलहों से लैस करीब आधा दर्जन बदमाशों ने देर रात धावा बोलकर वारदात को अंजाम दिया था। विजय और उनकी पत्नी को जमकर पीटा था। इसके बाद दरवाजा खुलवाकर घर में दाखिल हुए थे। फिर उनकी बहु सुभाषिनी, बेटी पर हमला बोला था। हमले में बहू को गंभीर चोटें आयी थीं। विजय की बेटी सुलेखा के सिर और आंख पर लोहे के बेच्ले से वार किया था। सुलेखा की आंख फूटते बची थी। इसके बाद भी सभी घायलों को ट्रामा में भर्ती कराया गया था। मामले में पुलिस ने चोरी के दौरान मारपीट का मुकदमा दर्ज किया था। इसके बाद जब अधिकारियों के संज्ञान में मामला आया तो जमकर थानाप्रभारी को फटकार लगी। उसके बाद घटना डकैती में दर्ज हुई थी। बदमाश छह लाख रुपये के कीमती जेवर और 50 हजार नकदी समेट ले गए थे।

पड़ताल में जुटी पुलिस टीम हरदोई, उन्नाव, सीतापुर और लखीमपुर खीरी के बदमाशों के साथ ही स्थानीय बदमाशों का ब्योरा खंगाल रही है। थानाप्रभारी ने बताया कि करीब दो दर्जन से अधिक लोगों से पूछताछ की गई है। पुलिस के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं। जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

.