कमान से निकला हुआ तीर वापस नहीं हो सकता है, इसी तरह से मेरी अब वापसी संभव नहीं है: स्वामी प्रसाद मौर्य

0
55
swami parsad mauya
.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने आवास पर दिया बड़ा बयान

फर्स्ट आई न्यूज डेस्क:

लखनऊ: योगी कैबिनेट से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने बड़ा बयान दिया। उनके इस्तीफे के बाद लगातार वापसी की चर्चा हो रही थी। हालांकि, बुधवार को उन्होंने अपने आवास पर कहा, ‘ कमान से निकला हुआ तीर वापस नहीं हो सकता है, इसी तरह से मेरी अब वापसी संभव नहीं है।’

उन्होंने कहा कि भाजपा को पश्चिम में उम्मीद के मुताबिक उम्मीदवार नहीं मिल रहे हैं। अभी भी मंथन चल रहा है। उम्मीदवारों के चयन के लिए हरियाणा के नेताओं को भेजा गया है। टिकट की दावेदारी में ज्यादातर ब्राह्मण सामने आ रहे हैं। वो ऐसे लोग हैं जिनका कोई लंबा राजनीतिक कैरियर नहीं है।

योगी के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में शामिल

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका लगा था। योगी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया। उधर, भाजपा का साथ छोड़ने में औरैया के विधूना सीट से विधायक विनय शाक्य का नाम सामने आ रहा है। शाक्य सुबह से लापता हैं। उनकी बेटी रिया शाक्य का आरोप है कि उनके पिता का अपहरण हो गया है। उसने अपने चाचा देवेंद्र शाक्य पर किडनैपिंग का आरोप लगाया है। रिया लखनऊ आ रही हैं। वहीं, देवेंद्र शाक्य का कहना है कि उनके भाई विनय अपनी मर्जी से उनके साथ लखनऊ आए हैं। मेरी भतीजी किसी बड़े भाजपा नेता के दबाव में आरोप लगा रही है।

मौर्य ने इस्तीफे की वजह ये बताई

मौर्य ने अपने इस्तीफे में लिखा, ”माननीय राज्यपाल जी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मंत्रिमंडल में श्रम एवं सेवायोजन व समन्वय मंत्री के रूप में विपरीत परिस्थितियों व विचारधारा में रहकर भी बहुत ही मनोयोग के साथ उत्तरदायित्व का निर्वहन किया है। किंतु दलितों, पिछड़ों, किसानों बेरोजगार नौजवानों एवं छोटे- लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के मंत्रिमंडल से मैं इस्तीफा देता हूं।

.