तीन युवक की ट्रेन से कटकर मौत, दस घंटे बाद शव की हुई शिनाख्त

0
51
.

चित्रकूट, गुरूवार को भैंरोपागा स्थित मंदाकिनी रेलवे पुल से रात में तीन लोग गुजर रहे थे तभी लखनऊ से रायपुर (छत्तीसगढ़) जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस पीछे से आ गई।तीनो युवक ट्रेन से कट गए। दिल दहला देने वाले इस ह्वदय विदारक घटना की जानकारी जिसे भी हुई उसका कलेजा कांप उठा। कर्वी कोतवाली के पास मंदाकिनी रेलवे पुल पर जा रहे तीन युवक ट्रेन से कट गए। बताया जा रहा है कि वो तीनों मजदूर थे और लोहे की दुकान पर काम करते थे। रेलवे ट्रैक से वापस आ रहे थे, तभी गरीब रथ एक्सप्रेस की चपेट आकर तीनों की दर्दनाक मौत हो गई। पुलिस ने तीनों के शव को पोस्टमार्टम भेज दिया। हादसे के करीब दस घंटे बाद शवों की शिनाख्त हो सकी।

बताया जा रहा है कि ट्रेन ने कई बार हार्न भी दिया, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया और तीनों ट्रेन की चपेट में आ गए। दो लोगों की ट्रैक पर ही ट्रेन से कटकर मौत हो गई, जबकि तीसरे के पैर पुल के ऊपर ट्रैक पर पड़ा था और धड़ कटकर नदी में गिर गया। हादसे के बाद ट्रेन के चालक ने चित्रकूटधाम कर्वी स्टेशन में जानकारी दी।

जिस पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र कुमार थाना की पुलिस फोर्स व जीआरपी के साथ पहुंचे। ट्रैक में पड़े दोनों शवों को पुलिस ने पोस्टमार्टम हाउस की मर्चरी में रखवाया, जबकि तीसरा शव सुबह नदी के निकाला गया, पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल ने बताया कि मृतकों की पहचान कर्वी कोतवाली क्षेत्र के कपसेठी निवासी राम सिंह निषाद पुत्र राम दास, संतोष साहू उर्फ नत्थू पुत्र कल्लू साहू निवासी चकरेही चौराहा और नत्थू खां पुत्र स्व भूरा मुसलमान निवासी भरतपुरी कर्वी के के रूप में हुई है। ट्रेन के चपेट में आने से तीनों की मौत हुई है। लोगों ने बताया कि तीनों पाठा जलकल के पास लोहे की दुकान में काम करते थे। स्टेशन प्रबंधक ने बताया कि चालक से मिली सूचना के अनुसार तीनों ट्रेन के आगे-आगे पुल पर चल रहे थे हार्न देने के बाद भी सुना नहीं। हादसे के बाद एक घंटे ट्रैक बाधित रहा।

.