UP: बागपत, मथुरा के बाद गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का धरना खत्म कराने की तैयारी में प्रशासन…

0
122
.

गाजियाबाद. उत्तर प्रदेश के योगी सरकार ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में चल रहे किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के धरनों को समाप्त कराना शुरू कर दिया है. एक दिन पहले आधी रात को बागपत के बड़ौत में किसानों का धरना समाप्त करा दिया गया है, इसके बाद आज गुरुवार को मथुरा में डीएम और एसएसपी ने वार्ता कर किसानों को धरना समाप्त कराने पर मना लिया. अब यूपी के सबसे बड़े गाजीपुर बॉर्डर के धरने को खत्म कराने की तैयारी को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई है. हालांकि प्रशासन की तरफ से इस पर अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

जानकारी के अनुसार यूपी गेट धरना स्थल खाली करने के लिए किसानों को जिला प्रशासन ने अल्टीमेटम दिया है. इसके बाद आज ही धरना स्थल खाली हो सकता है. जिला प्रशासन एवं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी गण मौके पर मौजूद हैं. यूपी गेट पर धरना स्थल को खाली कराने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा किसानों को अल्टीमेटम दे दिया गया है. आज रात तक धरना स्थल खाली हो सकता है. जिला मजिस्ट्रेट अजय शंकर पांडेय सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर उपस्थित हैं. धरना स्थल को खाली कराने की जिला प्रशासन द्वारा पूरी तैयारी की गई है.

नगर निगम से दी जा रही सभी सुविधाएं रोकी गईं

सूत्रों के अनुसार नगर निगम की तरफ से अब तक धरने में किसानों को दी जा रही सभी सुविधाओं को रोक दिया गया है. इसमें उनके पानी के प्रबंध लेकर शौचालय, साफ-सफाई की व्यवस्था शामिल है.भारी फोर्स की तैनाती, फ्लैग मार्च

गाजीपुर बॉर्डर पर किसान कृषि बिल के विरोध में 64 दिनों से ज्यादा हो गए हैं. दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर बवाल के बाद गाजीपुर बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. सुबह फ्लैग मार्च भी किया गया. इसके साथ-साथ हम आपको बता दें कि गाजीपुर से किसानों ने अपने तंबू उखाड़ने शुरू कर दिए हैं. गाजियाबाद  पुलिस-प्रशासन रात से गश्त कर रहा है. मेरठ जोन की कमिश्नर एडीजी मेरठ रेंज के आईजी रात से ही यहां कैंप कर रहे हैं. वहीं तमाम जिले के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी यहां मौजूद हैं.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी लोग दिल्ली पुलिस के निर्देशों के इंतजार में हैं. उसके बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी. सुरक्षा को देखते हुए अर्द्धसैनिक बल भी तैनात हैं. इसके साथ-साथ ड्रोन कैमरे से भी निगरानी की जा रही है कि किसी प्रकार की कोई भी अप्रिय घटना न घट सके.

दिल्ली पुलिस ने राकेश टिकैत को थमाया नोटिस

इस बीच दिल्ली पुलिस गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान धरना प्रदर्शन स्थल पर नोटिस लेकर पहुंची. नोटिस में किसान नेता राकेश टिकैत से सवाल किए गए हैं और उनसे मामले में तीन दिन के भीतर जवाब देने भी कहा गया है. नोटिस में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस की तरफ से ट्रैक्टर रैली को लेकर जो शर्तें रखी गईं थीं, उसका उल्लंघन क्यों किया गया है? शर्तों के मानने पर ही ट्रैक्टर रैली निकालने की अनुमति दी गई थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया. इसको लेकर ही किसान नेताओं से सवाल जवाब किए जा रहे हैं. दिल्ली पुलिस ने राकेश टिकैत से इसके तहत ही नोटिस के जरिए सवाल किए हैं.

बता दें कि गाजीपुर स्थित लोकेशन पर मौजूद कुछ किसानों से गुरुवार को मुलाकात करने राकेश टिकैत आए थे. उसी दौरान दिल्ली पुलिस के अधिकारी द्वारा किसान नेता राकेश टिकैत को नोटिस दिया गया है. बता दें कि गणतंत्र दिवस पर निकाली गई ट्रैक्टर रैली ने दिल्ली में हिंसा का रूप ले लिया था. इस हिंसा में कई लोग घायल हुए, कुछ की मौत भी हो गई है. रैली के बाद पुलिस अब एक्शन मोड में है और किसान संगठन व उनके नेताओं को नोटिस जारी किया जा रहा है.

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here