UP: बिजनौर में युवती की मौत का मिला अहम सुराग

0
51
.

बिजनौर में हुई नेशनल महिला खिलाड़ी की हत्या के मामले में पुलिस को एक अहम आडियो मिली है, जिसमें युवती सौरभ नामक एक युवक से जान की भीख मांग रही है। यह रिकार्डिंग युवती के दोस्त ने की थी, जो हत्या के समय उससे बात कर रहा था। रिकार्डिंग के आधार पर पुलिस ने सौरभ नाम के कातिल की तलाश शुरू कर दी है। उधर, कातिल की गिरफ्तारी न होने से आक्रोशित अनुसूचित जाति के लोगों ने पोस्टमार्टम हाउस पर हंगामा किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है।

1.36 मिनट की आडियो में कैद हुई युवती की अंतिम सांसें

नेशनल खिलाड़ी की अंतिम सांस 1.36 मिनट की मोबाइल आडियो में कैद हो गई। दो बजकर दो मिनट पर वह चीखते हुए कह रही है कि सौरभ छोड़ दे, मुझे मत मार। पुलिस ने इस आडियो के आधार पर सौरभ वाले नाम के 32 युवकों को चिह्नित किया है। पुलिस के मुताबिक युवती साढ़े 11 बजे घर से स्कूल गई थी। स्कूल की सीसीटीवी फुटेज में वह जाती हुई दिखाई दे रही है। दो बजे वह स्टेशन पर उतरकर पैदल घर के लिए चल दी। इस दौरान वह कालोनी के एक परिचित युवक से फोन पर बात कर रही थी। जो पलवल (हरियाणा) में नौकरी करता है।

सौरभ का नाम सुनाई दिया

करीब दो बजकर दो मिनट पर युवती ने चीखना शुरू कर किया तो युवक ने अपने मोबाइल में रिकार्डिंग शुरू कर दी। जिसमें वह छोड़ दे छोड़ चिल्लाती रही। आडियो में सौरभ नाम सुनाई दिया। युवक ने तुरंत मोहल्ला निवासी दोस्त को फोन पर बताया कि युवती खतरे में हैं। युवक के दोस्त ने छत पर चढ़कर देखा, लेकिन उसे कोई दिखाई नहीं दिया। इसके बाद वह और युवती की ताई स्टेशन तक आए थे।

तीन मिनट में हुआ कत्ल

पुलिस के मुताबिक 2.01 मिनट पर घटनास्थल के पास रखे स्लीपर के बीच से एक अन्य युवती निकली थी। उसे वहां कोई नहीं दिखाई दिया। इसके बाद युवती (खिलाड़ी) वहां से निकली थी। सर्वोदय कालोनी में लगी फुटेज में युवती की ताई और युवक का दोस्त आता दिखाई दे रहा है।

गला दबाकर की हत्या, दुष्कर्म की पुष्टि नहीं

एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि युवती का पोस्टमार्टम डा. जितेंद्र, डा. प्रभा रानी और डा. प्रेमप्रकाश के पैनल ने किया। इसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की पुष्टि हुई है, लेकिन दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि जांच के लिए स्लाइड भेजी गई है। मुकदमा जीआरपी से शहर कोतवाली पुलिस को ट्रांसफर हो गया है। कुछ अहम सुराग मिले हैं। उन पर काम किया जा रहा है।

.