UP News: CM योगी ने MSME इकाइयों की तेजी से स्थापना किये जाने के दिये निर्देश

0
23
UP News CM Yogi gave instructions for the speedy establishment of MSME units
.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (स्थापना एवं संचालन सरलीकरण) अधिनियम-2020 के अन्तर्गत प्रदेश में MSME इकाइयों की तेजी से स्थापना किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इकाइयों के शीघ्र संचालन के माध्यम से रोजगार के नये अवसर पैदा होंगे और प्रदेश की अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ेगी। राज्य सरकार वैश्विक महामारी कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत प्रदेश की MSME इकाइयों को हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराने के लिए तत्पर है।

सीएम योगी मंगलवार को अपने सरकारी आवास पर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (स्थापना एवं संचालन सरलीकरण) अधिनियम-2020 के तहत MSME इकाइयों की स्थापना की प्रगति के सम्बन्ध में समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस अधिनियम के तहत इकाइयों की स्थापना के लिए जिला उद्योग केन्द्र के अधिकारी, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग तथा उद्यमियों के साथ समन्वय व संवाद बनाया जाए। उद्यमियों को इस सम्बन्ध में अधिक से अधिक जानकारी प्रदान करते हुए प्रक्रिया से अवगत कराया जाए। अधिनियम के मुख्य बिन्दुओं को हाईलाइट करते हुए MSME इकाइयों की स्थापना सुगमतापूर्वक किए जाने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने इस सम्बन्ध में व्यापक प्रचार-प्रसार किए जाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश व देश के औद्योगिक विकास में MSME सेक्टर का महत्वपूर्ण योगदान है। औद्योगिक विकास और MSME इकाइयों की स्थापना के सम्बन्ध में राज्य सरकार हर सम्भव प्रयास कर रही है। लोगों को रोजगार देकर उन्हें स्वावलम्बी बनाना वर्तमान सरकार की प्राथमिकता है। उत्तर प्रदेश असीमित सम्भावनाओं वाला प्रदेश है। MSME इकाइयों की स्थापना से व्यापक पैमाने पर उद्यमी लाभान्वित होंगे। पूंजी निवेश उपलब्ध होगा। उद्यमियों की ऊर्जा के सही इस्तेमाल से प्रदेश का नवनिर्माण सुनिश्चित होगा। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (स्थापना एवं संचालन सरलीकरण) अधिनियम-2020 का उद्देश्य प्रदेश के MSME इकाइयों की स्थापना को सुगम बनाना है।

इस अवसर पर MSME मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव वित्त एस0 राधा चैहान, सचिव मुख्यमंत्री आलोक कुमार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

.