क्या राहुल द्रविड़ होंगे टीम इंडिया के अगले हेड कोच? आकाश चोपड़ा बोले- रवि शास्त्री को मिलेगी कड़ी टक्कर

0
19
Rahul Dravid be the next head coach of Team India Aakash Chopra said Ravi Shastri will get tough competition
.

नई दिल्ली. श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम लगातार दो वनडे मैच जीत चुकी है और हर तरफ कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) (Rahul Dravid) की चर्चा हो रही है. फैंस मांग कर रहे हैं कि द्रविड़ (Rahul Dravid) को सीनियर टीम का भी जिम्मा दिया जाए. अभी ऐसी अटकलें भी लगाई जा रही हैं कि द्रविड़ (Rahul Dravid) उनकी जगह ले सकते हैं. बता दें कि साल 2017 में अनिल कुंबले (Anil Kumble) के हटने के बाद रवि शास्त्री ने टीम इंडिया (Team India) के कोच के तौर पर पदभार संभाला था.

इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि द्रविड़ (Rahul Dravid) के पास टीम इंडिया का कोच के लिए आवश्यक साख और अनुभव है. हालांकि टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) को नहीं लगता कि द्रविड़ (Rahul Dravid) भारत के कोच बनने जा रहे हैं. यह पहली बार नहीं है जब भारतीय टीम के संभावित कोचों की सूची में द्रविड़ (Rahul Dravid) का नाम चर्चा में है. कुंबले के जाने के बाद भी द्रविड़ (Rahul Dravid) की चर्चा हो रही थी. हालांकि चार साल पहले द्रविड़ (Rahul Dravid) ने खुद को कोच की रेस से दूर रखा था. चोपड़ा को लगता है कि इस बार भी ऐसा ही होगा.

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) अपना नाम लिस्ट में डालने जा रहे हैं. अगर राहुल कहते हैं कि वह भारत के कोच बनना चाहते हैं तो टक्कर हो सकती है. अगर वह चाहते हैं, तो यह एक मजबूत लड़ाई होगी.” द्रविड़ (Rahul Dravid) ने पिछली बार परिवार के साथ अधिक समय बिताने की आवश्यकता पर जोर दिया था और भारत ए और अंडर-19 टीमों के साथ बने हुए थे. श्रीलंका दौरे पर भारत को सिर्फ छह मैचों की सीरीज खेलनी है इसलिए उन्होंने कोच बनना आसानी से स्वीकार कर लिया. अगर द्रविड़ (Rahul Dravid) कोच की रेस में शामिल होते हैं तो शास्त्री को कड़ी टक्कर मिलेगी.

चोपड़ा (Aakash Chopra) ने आगे कहा, “लेकिन अगर द्रविड़ (Rahul Dravid) अपनी इच्छा जाहिर करते हैं तो शास्त्री के सामने कोई अन्य उम्मीदवार नहीं टिक पाएगा. ऐसा मेरा मानना है.” चोपड़ा को नहीं लगता कि कोच बदलने की भी जरूरत है. टीम इंडिया ने भले ही शास्त्री के नेतृत्व में आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीती हो, लेकिन टीम के ओवरऑल प्रदर्शन की ज्यादा आलोचना नहीं हुई है. चोपड़ा के अनुसार शास्त्री अगले दो सालों तक टीम इंडिया को अपनी सेवाएं दे सकते हैं. भारत को इस दौरान टी20 वर्ल्ड कप और वनडे वर्ल्ड कप खेलना है.

.