Women’s Day 2021: 8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस? जानें क्या है इस दिन का महत्व

0
196
International Women's Day
.

न्यूज डेस्क. Women’s Day 2021: हर साल मार्च की 8 तारीख महिलाओं के नाम की जाती है. दुनियाभर में लोग इस दिन को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) के रूप में मनाते हैं. इस खास दिन पर महिलाओं को मान-सम्मान दिया जाता है. ये दिन महिलाओं के सशक्तीकरण के नाम किया जाता है. महिला दिवस की शुरुआत 1911 से हुई और धीरे-धीरे ये दिवस एक समुदाय या लिंग की परिभाषाओं से ऊपर उठकर विश्व में अपनी पहचान बनाता गया, आज विश्व की आधी आबादी इसे अपने अधिकार दिवस के जश्न के रूप में मनाती है।

International Women's Day

कैसे हुई महिला दिवस मनाने की शुरुआत

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) की शुरुआत एक आंदोलन से हुई थी। आज से तकरीबन 113 साल पहले साल 1908 में इसकी शुरुआत हुई थी, जब अमेरिका के शहर न्यूयॉर्क में करीब 15 हजार महिलाओं ने मार्च निकालकर नौकरी में कम घंटों, बेहतर सैलरी और वोटिंग के अधिकार की मांग की थी। ठीक इसके एक साल बाद सोशलिस्ट पार्टी ऑफ अमेरिका ने इस दिन को पहला राष्ट्रीय महिला दिवस घोषित कर दिया। वहीं से महिला दिवस की शुरुआत हुई।

8 मार्च को ही क्यों मनाया जाता है महिला दिवस?

पहले विश्वयुद्ध में करीब 2 मिलियन रूसी सैनिकों के मारे जाने के बाद 1917 में फरवरी माह के आखिरी रविवार को रूसी महिलाओं ने ब्रेड और पीस नाम से 4 दिनों तक स्ट्राइक किया। जुलियन कैलेंडर जो उस वक्त रूस में इस्तेमाल होता था, उसके अनुसार ये दिन 23 फरवरी का था। जबकि ग्रेगोरियन कैलेंडर के मुताबिक 8 मार्च, तभी से विमेंस डे हर साल 8 मार्च को मनाया जाने लगा।

इस बार क्या है महिला दिवस की थीम

साल 2021 में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की थीम इंटरनैशनल विमेंस डे डॉट कॉम के मुताबिक ‘Choose To Challenge’ है। बता दें कि विमेंस डे का पहला थीम अतीत का जश्न, भविष्य की योजना था। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस” मनाने का उद्देश्य महिलाओं को किसी भी मामले में पुरुषों से कम नहीं ये बताना है। साथ ही महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक भी करना है।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here